Home JOB SALARY सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है? | Software Engineer Salary in...

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है? | Software Engineer Salary in India 2023

आज के समय में technology दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। Technology की बढ़ती दुनिया के बीच हर व्यक्ति Engineering करना और Engineer बनने का सपना देख रहा है। Engineering भविष्य के लिए बेहतर option माना जाता है। और Engineer बनने वाले विद्यार्थी की इज्जत भी काफी अधिक होती है। विद्यार्थियों के लिए Engineering का सपना अक्षर शुरुआत से ही उत्पन्न हो जाता है।

Engineer बनने का मकसद सभी लोगों का पैसा कमाना ही होता है। Engineer बनके व्यक्ति मोटा पैसा कमाना चाहता है और Engineer की Salary कितनी होती है। इसके बारे में हर व्यक्ति इस सोचता रहता है। आज के इस आर्टिकल मे हम आपको इंजीनियर शाखा Software Engineer ki Salary kitni hoti hai? इसके बारे में जानकारी देगें।

Software Engineer kya hota hai?

इंजीनियरिंग की एक शाखा सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग है और जो सॉफ्टवेयर इंजीनियर कि इस शाखा के तहत इंजीनियरिंग करता है। उसे सॉफ्टवेयर इंजीनियर कहते हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर व्यक्ति इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करने के पश्चात बनता है। जब व्यक्ति सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन जाता है, तो व्यक्ति की इज्जत बढ़ने के साथ व्यक्ति की सैलरी भी कई गुना बढ़ जाती है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के पश्चात जाती के पास रोजगार के भी कई नए अवसर उपलब्ध हो जाते हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें? (Software Engineer kaise bane?)

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने की यदि हम बात करें, तो सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए विद्यार्थी को सबसे पहले 12thउत्तीर्ण करनी होगी। बाहरी कक्षा पास करने के पश्चात आपको इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेना होगा। एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेकर आपको जो इंजीनियरिंग कॉलेज दिया जाता है। उस इंजीनियरिंग कॉलेज में सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए डिग्री कोर्स को करना है। 4 साल की अवधि का सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स करके आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकते हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलेरी कितनी होती है? (Software Engineer ki salary kitni hoti hai)

इंजीनियरिंग बहुत बड़ी सा का है जिसमें अलग-अलग प्रकार के इंजीनियर होते हैं। अलग-अलग विभाग के अनुसार विद्यार्थी के द्वारा किए गए कोर्स विद्यार्थी को एक अलग क्षेत्र में परफेक्ट इंजीनियर बनाते हैं। अलग-अलग क्षेत्र के अनुसार इंजीनियर की सैलरी अलग-अलग होती है।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर काफी मान्यता प्राप्त पद मारा जाता है सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी की बात करें तो सॉफ्टवेयर इंजीनियर प्राइवेट सेक्टर में 20000 से ₹40000 आराम से कमा सकता है। हालांकि यदि वह विद्यार्थी मल्टीनेशनल कंपनी से जुड़ जाता है या किसी बड़ी संस्था में काम करने का मौका मिल जाता है, तो व्यक्ति अपने टैलेंट के दम पर ₹100000 प्रति महीना या इससे अधिक भी कमा सकता है।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कोई फिक्स नहीं होती है। इसमें व्यक्ति को अपना टैलेंट बखूबी प्रदर्शित करते हुए अपने कमाई के जरिए निकालने होंगे। व्यक्ति अपने हुनर के आधार पर लाखों करोड़ों रुपए कमा सकता है।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के पश्चात कई प्रकार के कंप्यूटर साइंस इंजीनियर बनने का मौका भी मिलता है और यदि आप आईआईटी के सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनते हैं। यानी कि जी मैंस की Exam क्लियर करके यदि आपको आईआईटी की कॉलेज मिलती है और उसके पश्चात आफ सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनते हैं तो आप की मान्यता बहुत अधिक हो जाती है।

प्राइवेट कॉलेज से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग बन्ना आपके वैल्यू को थोड़ा कम कर देता है। लेकिन यदि आप आईआईटी से इंजीनियर बन जाते हैं तो आपको प्रतिवर्ष बड़ी मल्टीनेशनल कंपनियों द्वारा एक करोड़ से डेढ़ करोड़ तक का सालाना पैकेज भी दिया जाता है।

भारत के आईआईटी से सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन चुके कई विद्यार्थी विदेशों में अजय सॉफ्टवेयर इंजीनियर काम कर रहे हैं और अच्छा पैकेज कमा रहे हैं। सॉफ्टवेयर इंजीनियर के लिए विद्यार्थी अपने हुनर के आधार पर अपने सैलरी का निर्धारण खुद कर सकता है।

अवश्य देखें:-

अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलेरी (America me Software Engineer ki Salary 2023)

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी अलग-अलग देश पर निर्भर करती है। कई देशों में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी ज्यादा है। कई देशों में थोड़ी कम है। उसी प्रकार से भारत के मुकाबले अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलेरी कितनी होती है।

इसके बारे में यदि हम बात करें तो अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार की सैलरी भारत में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की तुलना में करीब 15 गुना अधिक होती है। अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार की न्यूनतम सैलरी ₹250000 से लेकर ₹1050000 तक दी जाती है।

इसी आधार पर अमेरिका की मल्टीनेशनल कंपनी में यदि किसी सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर उम्मीदवार को कार्यरत होने का मौका मिल जाता है, तो उस व्यक्ति को सालाना 1 करोड से डेढ़ करोड़ का पैकेज भी मिल सकता है।

भारत के बहुत सारे सॉफ्टवेयर इंजीनियर को iit से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग डिग्री ले चुके हैं और वर्तमान में अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के तौर पर कार्यरत है और करोड़ों रूपए प्रति वर्ष कमा रहे हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के फायदे क्या क्या होते हैं?

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने वाले व्यक्ति के कई प्रकार के फायदे होते हैं। जिसकी सूची कुछ इस प्रकार से है।

  • जो व्यक्ति सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता है। उस व्यक्ति को सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर सबसे मुख्य फायदा इज्जत का मिलता है। व्यक्ति की इज्जत बहुत बढ़ जाती है आसपास में सभी लोग बड़े सम्मान के साथ उसे पुकारते हैं।
  • विद्यार्थी को उच्च लेवल का सैलरी पैकेज मिलता है।
  • उमीदवार को नौकरी के कई अवसर सरकारी व प्राइवेट क्षेत्र में मिलते हैं।
  • उम्मीदवार के पास पैसों की कोई फिक्स बंदोबस्ती नहीं रहती है। व्यक्ति अपनी इच्छा अनुसार अपने अनुभव और अपने जुनून के दम पर पैसे कमा सकता है।
  • साइबर सिक्योरिटी के तौर पर भी नौकरी के नए अवसर मिलते हैं।
  • मल्टीनेशनल कंपनी में भी जॉब करने का मौका मिल जाता है।
  • फ्रीलांसर क्षेत्र में भी काम के बहुत सारे अवसर मिलने शुरू हो जाते हैं।

निष्कर्ष:- Software Engineer ki salary kitni hoti hai

सॉफ्टवेयर इंजीनियर का नाम तो आपने सुना ही होगा तो फिर इंजीनियर के प्रति हर व्यक्ति इंटरेस्टेड रहता है। हर व्यक्ति अपना करियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर बनाना चाहता है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर की ना सिर्फ इज्जत होती है। पैसे कमाने के भी नए अवसर मौजूद हो जाते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर क्या होता है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलेरी कितनी होती है? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments