Home DIGITAL TRENDS Network Security Kya Hota Hai? 2022 में सम्पूर्ण जानकारी

Network Security Kya Hota Hai? 2022 में सम्पूर्ण जानकारी

कंप्यूटर और मोबाइल में Network का प्रयोग तो हर व्यक्ति करता है। हर व्यक्ति के जीवन में Network और Internet आज के समय में एक अभिन्न महत्वपूर्ण इकाई बन चुका है। इंटरनेट के बिना मनुष्य कर रहना भी आज के समय में काफी मुश्किल होता जा रहा है। इंटरनेट के माध्यम से प्रदान कर रही जाने वाली सुरक्षा जिसे Network Security के नाम से पहचाना जाता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको Network Security kya hota hai? और नेटवर्क सिक्योरिटी के कितने प्रकार हैं? उसके बारे में जानकारी देंगे।

Network Security क्या है?

आपके द्वारा जब नेटवर्क का प्रयोग किया जाता है। उस समय यदि आप किसी भी Unauthorized Website या Risky Website को अनुमति दे देते हैं। तो ऐसे में नेटवर्क के द्वारा आप को सुरक्षा प्रदान करवाई जाती है। जिसे Network Security कहते हैं। यह आपके नेटवर्क और डाटा को कई प्रकार के अन्य खतरों से बचाता है। साथ ही साथ हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर को भी होने वाले खतरों से बचाता है।

Network Security के द्वारा नेटवर्क के जरिए रिस्की डाटा पहले से रोका जाता है। आपने भी कई बार देखा होगा कि जब किसी भी रिस्की वेबसाइट को आप ओपन करते हैं। तब आपके सामने एक Attention Popup के रूप में आ जाता है। जिसे Network Security ही कहते हैं।

Network Security एक प्रकार की सुरक्षा है। जिसके माध्यम से नेटवर्क की अखंडता को अधिकृत पहुंच और खतरों से बचाने के लिए डिजाइन किया जाता है। नेटवर्क सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को जोखिम से बचाने के लिए विभिन्न प्रकार की रक्षात्मक उपाय करती है। जिससे आपके Software और Hardware की सुरक्षा बढ़ जाती है।

Read Also:- Network Interface Card (NIC) क्या है जानिए हिंदी 2022 में?

नेटवर्क सिक्योरिटी कैसे काम करती है?

संगठन के द्वारा नेटवर्क सिक्योरिटी को ऐड्रेसिगं करते समय अलग-अलग लेयर के रूप में नेटवर्क के जरिए हमले करने वाले को रोका जाता है। हमला नेटवर्क सिक्योरिटी के किसी भी लेयर पर हो सकता है इसीलिए नेटवर्क सिक्योरिटी आपके हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर को बचाने के लिए अलग-अलग नीतियों को प्रत्येक क्षेत्र में संबोधित करके डिजाइन करती है, जिससे सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को कोई भी नुकसान ना हो।

नेटवर्क सिक्योरिटी जहां नेटवर्क सुरक्षा किनारों पर और नेटवर्क के बीच में सुरक्षा की कई परतों के रूप में काम होता है। सभी Layers एक रणनीति के साथ बनी होती है और अपनी नीतियों का पालन करती है। केवल अधिकृत उपयोगकर्ता इनेटर संसाधनों तक पहुंच सकते हैं और जोखिम और रिस्की वाले पेज जिसे Network Security के द्वारा रोक दिया जाता है।

नेटवर्क सुरक्षा एसोसिएशन के लिए किसी भी नेटवर्क सुरक्षा को संबोधित करने के वक्त विश्लेषण की अलग-अलग पड़ता के रूप में संबोधित करना होता है। नेटवर्क सुरक्षा मॉडल किसी भी स्तर पर हमले को रोकने के लिए अपने हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की नीतियों को विपरीत रूप से गठित करता है।

नेटवर्क सुरक्षा के फायदे

  • Network Security जो आपको अपने इंटरनेट के प्रयोग के दौरान होने वाले जोखिम से बचाते हैं और कई प्रकार के खतरों को अवरूद्ध कर के आप के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को रिस्की वेबसाइट से बचाने का काम करती है।
  • कई बार हमें पता नहीं चल पाता है, कि कौन सी वेबसाइट हमारे सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के लिए रिस्की है तो ऐसे में इंटरनेट सिक्योरिटी आपको Attention उपलब्ध करवाती है।
  • Network Security की वजह से आपके सिस्टम को अच्छे से प्रोडक्ट किया जाता है,
  • अपने डेटा को सुरक्षा देने के लिए ही Network Security का प्रयोग किया जाता है।

Network Security के सिद्धांत

  1. Network Security जो की गोपनीयता का मुख्य रुप से ध्यान रखती है। किसी भी व्यक्ति की जरूरी इंफॉर्मेशन को Network Security के माध्यम से कभी भी वायरल नहीं किया जाता है। गोपनीयता का यहां पर मुख्य रुप से ध्यान रखा जाता है। Send करने वाले और Receive करने वाले के बीच साझा की गई जानकारी सिर्फ उन दो लोगों को ही देखने योग्य उपलब्ध होती है। अन्य किसी भी व्यक्ति को इसकी अनुमति नहीं होती है।
  2. Network Security प्रमाणीकरण पर भी मुख्य रुप से ध्यान देती है। किसी भी Unauthorized को अनुमति नहीं दी जाती है।
  3. Network Security के अंतर्गत भेजने वाले और प्राप्त करने वाले के बीच में साझा किए गए मैसेज को किसी अन्य के साथ Access नहीं किया जाता है।

नेटवर्क सिक्योरिटी की जरूरत क्यों पड़ती है?

आज के समय में हर प्रकार का बिजनेस ऑनलाइन होता जा रहा है। हर व्यापार चाहे छोटा हो या बड़ा पूरी तरह से साइबर पर आधारित हो गया है। यहां पर इंटरनेट और इंटरनेट के जरिए ही हर बिजनेस को सुचारू रूप से चलाया जा रहा है। ऐसे में कई प्रकार के इंटरनेट खतरों का सामना करना पड़ता है जिसकी वजह से Network Security का प्रयोग करना बहुत ही आवश्यक हो गया है।

Network Security का प्रयोग करके आप अपने इंटरनेट के माध्यम से होने वाले खतरों और जोखिम से अपने बिजनेस और वेबसाइट को बचा सकते हैं। इतना ही नहीं आपके हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर पर होने वाली जोखिम को भी आसानी से बचाया जा सकता है।

Network Security के प्रकार

इंटरनेट के माध्यम से होने वाले जोखिम को बचाने के लिए मेट्रो सिक्योरिटी का क्यों किया जाता है और नेटवर्क सिक्योरिटी के प्रकार के बारे में जानकारी हम नीचे आपको प्रदान करवा रहे हैं।

  • फायर वॉल
  • एंटीवायरस सॉफ्टवेयर
  • ईमेल सुरक्षा
  • वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क
  • नेटवर्क सेगीमेशन
  • एक्सेस कंट्रोल
  • डाटा लॉस प्रीवेंशन
  • घुसपैठ की रोकथाम प्रणाली
  • वायरलेस सुरक्षा

इन सभी का प्रयोग करके आप अपने हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर पर होने वाली जोखिम से दूर हो सकते हैं और जोखिम मुक्त होकर आप अपने काम को सुचारु रुप से आगे बढ़ा सकते हैं।

निष्कर्ष:- Network Security Kya Hai in Hindi

देश में इंटरनेट का उपयोग करना आम बात हो गया है लेकिन इंटरनेट का जिस प्रकार से आप उपयोग कर रहे हैं उसी प्रकार से Internet की वजह से कई प्रकार के साइबर अटैक आपके बिजनेस या आपके Software पर हो सकते हैं। जिससे बचने के लिए आपको नेटवर्क सिक्योरिटी की जरूरत पड़ती है। आज का हमारा यह आर्टिकल जिसमें हमने आपको Network Security क्या है और नेटवर्क सिक्योरिटी के क्या-क्या फायदे हैं। इसके बारे में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी। यदि किसी व्यक्ति को इस आर्टिकल से जुड़ा हुआ कोई भी सवाल है, तो वह हमें कमेंट के जरिए बता सकता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments